बंद करे

सिरमौर पुलिस

विभाग की संक्षिप्त रूपरेखा

सिरमौर में पुलिसिंग की उत्पत्ति स्वतंत्रता के पूर्व की है जब सिरमौर एक रियासत थी और पुलिस विभाग एक पुलिस अधीक्षक के प्रभार में था जो सीधे राजा के प्रति जिम्मेदार था। राजा शमशेर प्रकाश के शासनकाल के दौरान प्रत्येक पुलिस थाने का प्रभारी एक उप निरीक्षक था जिसे 1934 में उप-निरीक्षक के रूप में फिर से नामित किया गया था। पुलिस बल की कुल संख्या जो 1904 में केवल 129 थी 1934 में बढ़ाकर 206 कर दी गई थी। विभाग को राजा द्वारा पंजाब पुलिस अधिनियम नियम और पंजाब पुलिस कोड की तर्ज पर प्रशासित किया गया था।

जिला सिरमौर में क्षेत्र कार्यालय

  1. पुलिस अधीक्षक कार्यालय जिला सिरमौर स्थित नाहन
  2. उप मंडल पुलिस अधिकारी कार्यालय पांवटा साहिब
  3. उप मंडल पुलिस अधिकारी कार्यालय राजगढ़
  4. उप मंडल पुलिस अधिकारी कार्यालय संगडाह

विभाग द्वारा निष्पादित गतिविधियाँ

विभाग द्वारा समय-समय पर विभिन्न गतिविधियाँ जैसे सामुदायिक पुलिसिंग योजना, यातायात नियम और जागरूकता कार्यक्रम, आत्मरक्षा प्रशिक्षण आदि का आयोजन किया जाता है।

  1. .सामुदायिक पुलिसिंग योजना:   सामुदायिक पुलिसिंग, पुलिसिंग की एक रणनीति है जो पुलिस निर्माण संबंधों और समुदायों के सदस्यों के साथ मिलकर काम करने पर केंद्रित है। यह एक ऐसी नीति है जिसके लिए पुलिस को सार्वजनिक सुरक्षा चिंताओं को दूर करने के लिए एक सक्रिय दृष्टिकोण की आवश्यकता होती है।
  2. ट्रैफिक रूल्स और अवेयरनेस प्रोग्राम्स:   ट्रैफिक नियमों के बारे में जागरूकता से ड्राइवर और पैदल चलने वालों दोनों की जान बचाई जा सकती है।
  3. लड़कियों के लिए आत्मरक्षा प्रशिक्षण: सिरमौर जिले के कई प्रशिक्षित पुलिस अधिकारी, स्कूल जाने वाली लड़कियों के बीच आत्मविश्वास का निर्माण करने के लिए सिरमौर जिले के स्कूलों में छात्राओं को आत्मरक्षा प्रशिक्षण (यूएसी) प्रदान कर रहे हैं। बलात्कार, छेड़छाड़, अपहरण और हत्या भारत में महिलाओं के खिलाफ अपराध के सबसे आम रूप हैं। भारत में महिलाएं भी एसिड अटैक और ईव-टीजिंग की चपेट में हैं। पीड़ित और दर्शक सहित लोगों की मानसिकता को अनदेखा करना है और बस इसे जाने देना है। लेकिन, एक स्वतंत्र देश के जिम्मेदार नागरिक के रूप में हम क्या महसूस करते हैं, यह महसूस करने में विफल है कि उत्पीड़न के ये उदाहरण महिलाओं के खिलाफ अन्य बड़े जघन्य अपराधों में शामिल हो सकते हैं। और यह तब है जब महिलाओं के लिए आत्मरक्षा तकनीक सीखने का महत्व महसूस किया जाता है।
  4. शक्ति ऐप / गुडिय़ा हेल्प लाइन:    हिमाचल प्रदेश सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए दिनांक 26/01/2018 को “शक्ति हेल्पलाइन” नंबर लॉन्च किया है। यह हेल्पलाइन नंबर 7650002024 इस जिले में 24 X 7 कार्यात्मक होगा।

विभाग और अधिकारियों के संपर्क की जानकारी

क्रमांक अधिकारी का नाम पद कार्यालय दूरभाष मोबाइल ईमेल
1 रमन कुमार मीणा, आईपीएस पुलिस अधीक्षक पुलिस अधीक्षक कार्यालय नाहन 01702-225002 7650002024 sp-nah-hp[at]nic[dot]in
2 सोम दत्त, एचपीएस अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पुलिस अधीक्षक कार्यालय नाहन 01702-222329 9418474500 asp-nhn-hp[at]nic[dot]in
3 मीनाक्षी देवी, एचपीएस उप पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) पुलिस अधीक्षक कार्यालय नाहन 01702-222557 9418471313 dsp-sirhq-hp[at]nic[dot]in
4
रमाकांत,एचपीएस
उप मंडल पुलिस अधिकारी पांवटा साहिब उप मंडल पुलिस अधिकारी कार्यालय पांवटा साहिब 01704-222144 8894228412 sdpo-poa-hp[at]nic[dot]in
5 अरुण मोदी, एचपीएस उप मंडल पुलिस अधिकारी राजगढ़ उप मंडल पुलिस अधिकारी कार्यालय राजगढ़ 01799-221089 8628098386 sdpo-raj-hp[at]nic[dot]in
6 मुकेश कुमार , एचपीएस उप मंडल पुलिस अधिकारी संगडाह उप मंडल पुलिस अधिकारी कार्यालय संगडाह 01702-248051 8219005341 sdpo-sangrah-hp[at]nic[dot]in
7 मनीष चौधरी, एचपीएस उप मंडल पुलिस अधिकारी शिलाई उप मंडल पुलिस अधिकारी कार्यालय शिलाई 8262808080

पुलिस स्टेशनों की संपर्क जानकारी

क्रमांक पुलिस थाना का नाम दूरभाष ईमेल
1 नाहन 01702-222522 police.nahan-hp[at]nic[dot]in
2 पॉँवटा साहिब 7659942322 police.paonta-hp[at]nic[dot]in
3 कालाअम्ब 01702-254100 police.kalamb-hp[at]nic[dot]in
4 शिलाई 01704-278547 police.shillai-hp[at]nic[dot]in
5 रेणुकाजी 01702-267329 police.renukajee-hp[at]nic[dot]in
6 संगडाह 01702-248201 police.sangrah-hp[at]nic[dot]in
7 पच्छाद 01799-236727 police.pachhad-hp[at]nic[dot]in
8 राजगढ़ 01799-221057 police.rajgarh-hp[at]nic[dot]in
9 माजरा 01704-255147 pol-majra-hp[at]gov[dot]in
10. महिला थाना नाहन 01702-222101 wps-nahan-hp[at]gov[dot]in
11. पुरुवाला 01704-238877 ps-puruwala-hp[at]gov[dot]in